कानून का खौफ पैदा करना आवश्यक

रवि कांत अध्यक्ष, शक्ति वाहिनी/अधिवक्ता, सुप्रीम कोर्ट PUBLISHED IN RASHTRIYA SAHARA – HASTKSHEP राजधानी नई दिल्ली में घरेलू बाल मजदूरों पर जारी अत्याचार को देखते हु ए प्लेसमेंट एजेंसियों के कार्य करने की पद्धतियों को रेगुलेट करने की आवश्यकता है क्योंकि इनकी सहभागिता घर के कामकाजों के लिए रखे गए...

Continue reading

(Un)wanted women

ASHOK KUMAR IN THE HINDU Female foeticide is a major factor resulting in trafficking of women from across the country to Haryana for forced marriages and the situation has only been worsened by widespread unemployment and the low status accorded to women in the State, says the first-ever UN commissioned...

Continue reading

अंतिम संस्कार के लिए नहीं मिल रही दो गज जमीन

PRAMOD KUMAR SUMAN IN DAINIK BHASKAR रांची/नई दिल्ली. झारखंड से 11 अप्रैल को बहला-फुसला कर दिल्ली लाई गई 10 वर्षीय ज्योति मरियम होरो की 19 अप्रैल को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी। शुक्रवार को यहां राष्ट्रीय राजधानी में अंतिम संस्कार के लिए दो गज जमीन मुहैया कराने से...

Continue reading