No comments yet

नाबालिग को शादी का झांसा देकर ले जाने के आरोप में आठ गिरफ्तार

SHAKTI VAHINI

PUBLISHED BY DAINIK JAGRAN

कोडरमा: एक ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हरियाणा के पानीपत में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान की शुरुआत कर रहे थे, दूसरी तरफ मानव तस्करी के उद्देश्य से कोडरमा सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्र की एक नाबालिग बेटी को शादी का झांसा देकर हरियाणा के एक अधेड़ उम्र के युवक ले जाने आया थे। पुलिस ने दूल्हा समेत इस मामले में लिप्त कुल आठ लोगों को गुरुवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

गिरफ्तार लोगों में हरियाणा के गंगाचाप रेवाड़ी निवासी विजय पाल, करमपाल (दोनों पिता छोटू राम) विजय सिंह, पिता महाबीर सिंह, सुरेश कुमार, पिता तलवीर सिंह, रामानंद शर्मा, पिता ईश्वर लाल, मुनिया मसोमात पति स्व. सिराज डोमचांच, मो. महताब व मो. अमजद अली (दोनों पिता जलालुद्दीन तारानाखो राजधनवार, गिरिडीह) शामिल हैं। इसे लेकर आरोपियों के विरुद्ध डोमचांच थाना में मानव व्यापार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के अनुसार डोमचांच थाना अंतर्गत पंचगांवा की रहनेवाली एक गरीब परिवार की नाबालिग लड़की से शादी करने के नाम पर उसे ले जाने की तैयारी चल रही थी। इसी दौरान ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। डोमचांच पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए मौके पर पहुंच कर सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने बताया कि वे लोग पांच दिन पूर्व यहां शादी करने के लिए आए थे।

सातवीं की है छात्रा

कोडरमा: जिस लड़की से शादी कर ले जाने आए थे वह लड़की सातवीं कक्षा की छात्रा है। लड़की ने बताया कि वह अभी पढ़ना चाहती है। लड़की की मां ने बताया कि बगल की एक महिला ने आकर कहा कि बेटी की शादी करोगी । गरीबी एवं लड़की के पिता की मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण हमने हां कर दी। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व भी डोमचांच क्षेत्र से तीन-चार लड़कियों को हरियाणा शादी के नाम पर ले जाया गया है।

मामले को महिला सीआईडी को भेजा जायेगा: एसपी

कोडरमा: कोडरमा एसपी संगीता कुमारी ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कहा कि आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस मामले को अपराध अनुसंधान शाखा के पास भेजा जायेगा। उन्होंने कहा कि उक्त लड़की की कस्तूरबा गांधी स्कूल में नामांकन कराकर आगे पढ़ने की व्यवस्था की जाएगी।

Post a comment

%d bloggers like this: