No comments yet

अंतिम संस्कार के लिए नहीं मिल रही दो गज जमीन

BP1791452-large

रांची/नई दिल्ली. झारखंड से 11 अप्रैल को बहला-फुसला कर दिल्ली लाई गई 10 वर्षीय ज्योति मरियम होरो की 19 अप्रैल को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी। शुक्रवार को यहां राष्ट्रीय राजधानी में अंतिम संस्कार के लिए दो गज जमीन मुहैया कराने से भी इनकार कर दिया गया। उसकी लाश नौ दिन से एम्स मॉर्चरी में पड़ी है। झारखंड से ज्योति के पिता नवीन होरो के पहुंचने के बाद उसका पोस्टमार्टम हुआ था।
अंतिम संस्कार के लिए शव को बत्रा अस्पताल के पीछे संत थॉमस कब्रिस्तान ले जाया गया। वहां के पादरी ने नियमों का हवाला देकर इसे दफनाने की इजाजत देने से मना कर दिया। इसके बाद झारखंड भवन, दिल्ली पुलिस और समाज कल्याण विभाग के अफसर पुष्प विहार कब्रिस्तान पहुंचे।

Post a comment

%d bloggers like this: